शिकवे

शिकवे-शिकायतों के लिए यह ज़िंदगी छोटी है,

पर क्या करें, जो कोई रुका नहीं सुनने के लिये…….

वैसे, ज़िंदगी में लुत्फ़ इन शिकायतों का भी है –

चंद क़तरे अश्क़,

अधूरी आरज़ू -हसरतें…..

और ना- उम्मीद शिकायतें….

गिले तो होंगे हीं.

Stay happy, healthy and safe – 37

Sanskrit Transcript –  न हि ज्ञानेन सदृशं पवित्रमिह विद्यते।

Transliteration –  na hi jñānena sadhya pavitramiha vidyate.

Hindi Translation – ज्ञान के समान पवित्र और उदात्त दूसरा कुछ नहीं.

English Translation – There is nothing as sublime and pure as knowledge.

 

Bhagavad Geeta 4.38 

काँच की नगरी

टूट कर मुहब्बत करो

या मुहब्बत करके टूटो.

यादों और ख़्वाबों के बीच तकरार चलता रहेगा.

रात और दिन का क़रार बिखरता रहेगा.

कभी आँसू कभी मुस्कुराहट का बाज़ार सजता रहेगा.

यह शीशे… काँच की नगरी है.

टूटना – बिखरना, चुभना तो लगा हीं रहेगा.

जिंदगी के रंग – 203

जिंदगी में हर रिश्ते एक दूसरे से

मुकाबला,आज़माइशें या

बराबरी करने के लिये नहीं होते हैं।

कुछ रिश्ते एक- दूसरे के हौसले इज़ाफ़ा करने अौर

कमियों को पूरा करने के लिये भी होते हैं।।

तभी ये रिश्तों को दरख्तों के जड़ों की तरह थामे रखते हैं।

Stay happy, healthy and safe- 36

 

क्रोधाद्भवति सम्मोहः सम्मोहात्स्मृतिविभ्रमः।
स्मृतिभ्रंशाद् बुद्धिनाशो बुद्धिनाशात्प्रणश्यति॥ २-६३


krodhādbhavati sammohaḥ sammohātsmṛtivibhramaḥ।
smṛtibhraṃśād buddhināśo buddhināśātpraṇaśyati॥ 2-63


क्रोध से उत्पन्न होता है मोह और मोह से स्मृति विभ्रम। स्मृति के भ्रमित होने पर बुद्धि का नाश होता है
और बुद्धि के नाश होने से वह मनुष्य नष्ट हो जाता है।


From anger there comes delusion; from delusion, the loss of memory; from the loss of memory, the destruction of discrimination; and with the destruction of discrimination, he is lost.

 

श्रीमद् भगवद्गीता

Stay happy, healthy and safe- 35


Sanskrit transcript:
समानी व आकूति: समाना ह्रदयानि व:।
समानमस्तु वो मनो यथा व: सुसहासति॥

 samānī va ākūti: samānā hradayāni va:।
samānamastu vo mano yathā va: susahāsati॥

Hindi translation 

 हमारा उद्देश्य एक हो,  हमारी भावनाएँ सुसंगत हो। हमारे विचार एकत्रित हो।

जैसे  इस विश्व के, ब्रह्मांड के विभिन्न पहलुओं अौर क्रियाकलापों में तारत्मयता  अौर एकता है ॥

 

English translation

 United be your purpose, harmonious be your feelings, collected be your mind, in the same way as all the various aspects of the universe exist in togetherness, wholeness.

 

 Rigveda 8.49.4