Stay happy, healthy and safe – 67

सूफी परंपरा में ईश्वर को हमेशा प्रेमी के रूप में देखा गया है. उसका दरवाजा केवल उन लोगों के लिए ही खुलता है, जो अपने-आप को उसके प्रेम में खो चुके होते हैं.

Rate this:

ज्यादातर तनाव बातें  ठीक से ना समझने के कारण होते हैं।

शब्दों पर इतना ध्यान न दो।

प्रेम के देश में, भाषा का स्थान नहीं है।

प्यार मौन होता है।। 

 

Most of conflicts and tensions are due to language.

Don’t pay so much attention to the words.

In love’s country, language doesn’t have its place.

Love’s mute.

 

 

 

Shams Tabrizi

Stay happy, healthy and safe –- 51

Yesterday is but a dream,

Tomorrow is only a vision. 

But today

well lived makes every yesterday a dream of happiness,

and every tomorrow a vision of hope.

 

 

― Kālidāsa, The complete works of Kalidasa

Kālidāsa –  Classical Sanskrit writer, regarded as the greatest poet and dramatist in the Sanskrit language, based on the Vedas, the Ramayana, the Mahabharata and the Puranas.