Dalit funeral triggers caste row in Vellore

नाज़ करते हैं विश्व योग गुरु होने पर, अपनी आध्यात्मिकता पर, चाँद पर जा रहे हैं. पर अभी भी एक दूसरे का अपमान कर रहे है. वह भी जीवन यात्रा समाप्त कर चुके मनुष्य के साथ .

46-year-old Dalit man’s dead body was lowered from a 20 feet high bridge over a river to ensure it could be cremated after upper- caste Hindus in Tamil Nadu’s Vaniyambadi , in Vellore district did not allow it to be carried through their land. 

News in detail

31 thoughts on “Dalit funeral triggers caste row in Vellore

  1. जातिवाद इस देश मे सबसे बड़ा दुर्भाग्य है रेखा जी,धन्यवाद की अपने ऐसी न्यूज़ साझा किया🙏

    Liked by 1 person

    1. आपसे सहमत हूँ लेकिन सच बात है कि हमारा सबसे बड़ा दुर्भाग्य और दुश्मन है, हमारी नासमझी और बीमार मानसिकता.

      Liked by 1 person

    1. संत कबीर हमेशा विरोधाभासी समाज पर कुठाराघात करते रहे पर … हम सब सीखें तब ना.
      आपने स्कूल में पढ़े दोहों की याद दिल दी . बहुत आभार .

      Liked by 1 person

    1. हम अपने को आध्यात्मिकता भरा और संस्कारोंवाला देश मानतें हैं. पर आधुनिक दुनिया की दौड़ में बहुत पीछे हैं.
      दलित, महिलाओं, बच्चों, third जेंडर और ना जाने कितनी समस्याएँ और भेद भाव बना रखें हैं.
      अफ़सोस की बात है कि हम सम्मान पाना चाहते हैं, पर सम्मान देना नहीं .

      Liked by 1 person

      1. में आपके एहसास की कदर करता हुँ🙏
        लेकिन इन अंधी बहरी सरकार को कौन समझाए, कोई आवाज़ उठता हैं सरकार के खिलाफ तो उसे देशद्रोही घोषित कर देता है।
        अभी देश का हाल बहुत भयानक है😌😌😌😌😌

        Liked by 1 person

      2. कुछ लोगों में इंसानियत ज़िंदा है , इसलिए दुनिया है. औरों को सीखने की ज़रूरत है .

        Like

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s