सोंच

सोंच-सोंच कर बहुत काम किया लोगों ने .

लेकिन ऐसी सोच बड़े काम की है.

यह किसकी सोंच है पता नहीं.

गाजर, मूली, भिंडी का तिरंगा .

जिसकी भी है उसे सलाम !

40 thoughts on “सोंच

  1. सब्ज़ी वाला कितना innovative है. गाजर, मूली और भिंडी से हीं हमारा तिरंगा बना लिया १५ अगस्त के मौक़े पर. 😊🇮🇳

    Liked by 2 people

  2. iss saal ka nobel sabji wale ko milna chahiye …ya phir mujhe 😃😃😃

    सतसैया के दोहरे ज्यों नाविक के तीर ,
    देखन में छोटन लगे घाव करे गम्भीर ।

    Liked by 1 person

    1. Great idea. Is daal sabjivaale ko chun lene dete hai. Next year tumhe…😊😂
      बिहारी लिखित दोहा बहुत अच्छा लगा .

      Like

      1. UP n बिहार तो ठीक है . पर यह तो बम्बईया है –
        Apun ko Oscar maangta …
        इसलिए मुन्ना भाई अवार्ड 👑 दिया जा रहा है. .😂

        Like

    2. अच्छा रहेगा पहले आप सब्जी वाला बन जाये। क्योंकि बिना उपलब्धि के आपको मेडल मिलना, जनता के सवाल के घेरे में रहेंगे।☺️

      Liked by 1 person

      1. You r so funny … haha

        Likhne bolne aur kerne me antar hai…..khair humare papa kisaan hai dost ….hum bhi kisaan he hote per kismat aur mehnat ne medical college pahucha diya 🙂

        Mai sabzi wale ka tiriskaar nahi ker raha …nobel ki baat kerna sabzi waali ki creativity per galat thori 🙂

        Mai toh ateet ka smaran ker ke …kal ke tewar badalta hu 🙂

        Haste raha karo dost ….
        .
        .
        .
        shadi to sabki hogi ek din …hahah namaste 🙂

        Liked by 2 people

      2. हाहाहाह… मैं मम्मी कसम खाता हूँ, शादी नहीं करुंगा।😊
        मैने, मजाकिया लहजे में कहा था। आप भी शादी मत करना।☺️

        Liked by 2 people

      3. Hum to karuga …aap bhi kerna

        Sab kuch kerna hai zindagi me …galt cheeeze chorker … 🙂

        Mummy kasam khana bad habit… bhai …. 🙂

        Liked by 2 people

      4. गलत न हो जाये इसीलिए तो घबरा रहा हूँ।☺️
        लगता है हम लास्ट मजाक तक पहुंच गये। आगे का राज मत बोलयेगा।☺️ विदा दीजिए!!

        Liked by 1 person

      5. हे गुरुदेव! 👏 हमें सदबुद्धि दीजिए। ये नारदमुनि का जबाना नहीं है जहाँ आपं सिर्फ हंसते जाये।☺️

        Liked by 1 person

  3. वाकई ये कमाल की क्रिएटिविटी है। कई बार चीजें हमारे सामने होती है पर कुछ बड़ा सोचने के चक्कर में सोचते रह जाते हैं।
    जब मैं कुछ कोमेडियन को सुनता हूँ तो उनकी क्रिएटिविटी देखकर स्तब्ध रह जाता है कि मैने इसे क्यों अपलाई नहीं किया अपने पास वाले लोगों को हंसाने के लिए।
    ये पोस्ट कुछ ऐसा ही हमें मैसेज देता है।

    Liked by 1 person

    1. मुझे भी इस अभिनव , अनोखी रचनात्मकता ने बहुत प्रभावित किया.
      कोमेडियम और कलाकारों में सचमुच प्रभावशाली क्रिएटिविटी दिखती है.

      Liked by 1 person

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s