मुट्ठी में दबी मुरझाई बेली

किरदार जीना है तो ऐसे जीयो.

मुट्ठी में दबी मुरझाई बेली फूल

अजनबी लगने लगी.

पर ख़ुशबू वही रूहानी

बिखेरती रही हथेलियों औ फ़िज़ा में.

No girl born in 132 villages of Uttarakhand in last 3 months

क्या प्रकृति हार मान गई?

या

इंसान मन मर्ज़ी करने में जीत गया ?

समाज ऐसा क्यों है ?

लड़कियों को जीवन देने में

माता-पिता डरते हैं?

कारण सामने है फिर भी

लोग इस अद्भुत घटना का कारण

खोजने की कोशिश कर रहे हैं.

216 children were born in 132 villages of the district in the last three months. However, not a single girl was among the newborns which has left the district administration baffled.

https://www.google.co.in/amp/s/m.hindustantimes.com/india-news/no-girl-born-in-132-villages-of-uttarkashi-district-in-uttarakhand-in-last-3-months/story-ZZE9w3HC4CvDUZjXsJIcPO_amp.html