Stay happy, healthy and safe – 191

The purpose of life, therefore, is the realizing of that prophecy; the unveiling of the immortal man; the birth of the spiritual from the psychical, whereby we enter our divine inheritance and come to inhabit Eternity. This is, indeed, salvation, the purpose of all true religion, in all times. Patanjali.


Patañjali, The Yoga Sutras of Patanjali

प्रकृति के नियम

जब फूल ना खिले।

फल ना हो।

फसल ना बढ़े।

तब मिट्टी, बीज, पानी को ठीक करते हैं,

जिसमें ये बढ़ते है।

या मौसम की कमियों की बातें करते है.

इंसानों अौर बच्चों के मामलों में,

ठीक विपरीत क्यों?

उन पर प्रकृति के ये नियम क्यों नहीं लागू होते?

 

 

 

 

गिरे-बिखरे कुछ लम्हे!

टूट कर गिरे-बिखरे कुछ लम्हे थे,

नज़रों के सामने।

जैसे हवा के झोंके से धरा पर बिखर अाईं,

फूलों की पंखुड़ियों।

कुछ भूले-बिसरे नज़ारें और कुछ यादें ,

जैसे कल की बातें हो।

आज सारे पल,

 अौर  सारी बीतीं घड़ियाँ पुरानी अौर अनजानी लगीं।

ऐसा दस्तूर क्यों बनाया है ऊपर वाले ने?

Stay happy, healthy and safe – 189

अश्वत्थामा बलिर्व्यासो हनुमांश्च विभीषणः।
कृपः परशुरामश्च सप्तैते चिरंजीविनः॥

अर्थात् : अश्वत्थामा, बलि, व्यास, हनुमान, विभीषण, कृपाचार्य और भगवान परशुराम ये सभी हिंदू पुराण अनुसार ऐसे सात व्यक्ति हैं, जो चिरंजीवी हैं।

English Translation – Purana and mythological story says -Ashwathama, Bali, Vyas, Hanuman, Vibhishan, Kripacharya and Lord Parasurama are the seven great Demigod/ human beings. These seven Demigods are immortal.


If your Name is not there in above list Pls use Mask and wash hands regularly .

विश्व हृदय दिवस , World Heart Day – 29 September

ग़ालिब ने सही फ़रमाया है। पर अपने पहलू के दिल को हिफ़ाज़त रखना कितना जरुरी है। यह समझाने के लिये विश्व हृदय दिवस मनाया जाता है।

Rate this:

दिल ही तो है न संग-ओ-ख़िश्त दर्द से भर न आए क्यूँ

रोएँगे हम हज़ार बार कोई हमें सताए क्यूँ?

 

विश्व हृदय दिवस  प्रत्येक वर्ष ‘29 सितम्बर‘ को मनाया जाता है। विश्व हृदय दिवस : हमारे शरीर का सबसे अहम हिस्सा है हृदय। … हृदय के प्रति जागरूकता पैदा करने और हृदय संबंधी समस्याओं से बचने के लिए दुनियाभर में हर साल 29 सितंबर को विश्व हृदय दिवस के रूप में मनाया जाता है।

Every year, World Heart Day is celebrated on 29th September, to raise awareness around cardiovascular diseases (CVD) and how they can be prevented. World Heart Day is a reminder for people across the world to stop and assess lifestyle choices for them and their family, while acknowledging the need to take strict steps to ensure the safety of their health against this morbid disease.