कुछ कम कुछ ज्यादा

पलों का हिसाब

उसके इश्क की खनक

उम्र-ए-रफ्ता

एक सफ़र ऐसा भी है !!

सच वो नहीं!

अपने लिए भी समय निकलो !