मेरी नई किताब – रूहानियत My latest coffee tab book- Ruhaniyat

आज महाशिवरात्रि के शुभ अवसर, मेरी नई किताब पब्लिश होने की ख़ुशी आप सबों से बाँटना है।
यह ख़ूबसूरत तस्वीरों वाली हिंदी कोट्स और कविताओं की किताब है। यह ऐमज़ान और फ्लिपकार्ट पर रेखा रानी की नाम से उपलब्ध है।

This is my latest Quotes coffee table book with beautiful illustrations. it’s available on Amazon & Flipkart. Very soon it’ll be on international platform Amazon.com too. Please search it with my official name – Rekha Rani.

ख़ुश रहने के लिए

खुशियां न तो मिलती है हाट-बाज़ार में|

ना पढ़ाया जाता है किसी पाठशाला में |

कुछ समय की खुशियाँ पा सकते हैं,

मादक नशा, और दुनियावी बातों में।

पर हमेशा खुश रहने के लिए,

झाँकना पड़ता है अपने दिल में।

अगर दिल औ रूह में रूहानियत हो,

तो हर हाल में खुश रहना आ जाता है।

Topic by YourQuote.

रूहानियत

स्पर्श मणि, Philosopher’s Stone, परुसवेदी या पारस पत्थर एक पहेली, एक रहस्य है। पारस पत्थर के बारे में यह मान्यता है कि इस पत्थर से स्पर्श कर लोहा सोना बन जाता है। यह काले रंग का सुगन्धित, दुर्लभ व बहुमूल्य पाषाण है।

Rate this:

जैसे छू  गया पारस लोहे को,

सोना बना गया।

चाहत है,  वैसे हीं रूहानियत-आध्यात्मिक  पारस

छू जाए दिल को

स्वर्ण बना जाए.