ख़ुश रहने के लिए

खुशियां न तो मिलती है हाट-बाज़ार में|

ना पढ़ाया जाता है किसी पाठशाला में |

कुछ समय की खुशियाँ पा सकते हैं,

मादक नशा, और दुनियावी बातों में।

पर हमेशा खुश रहने के लिए,

झाँकना पड़ता है अपने दिल में।

अगर दिल औ रूह में रूहानियत हो,

तो हर हाल में खुश रहना आ जाता है।

Topic by YourQuote.

9 thoughts on “ख़ुश रहने के लिए

    1. Thanks dear! मैं अक्सर कुछ ना कुछ लिखती रहती हूँ । yourquote वाले शायद मेरी आदत जान गए हैं😀। topics देते रहते है और उनपर कुछ ना कुछ लिख देतीं हूँ। तुम्हारे तारीफ़ करने का अन्दाज़ बड़ा प्यारा रहता है। 😊

      Liked by 1 person

  1. कुछ न कुछ लिखना ही तो हमारी कलम की,, अभिव्यक्ति है,,, प्रशंसनीय,,, शब्द कम अर्थ,, अधिक,,आपकी विशेषता है

    Liked by 1 person

    1. बेहद खूबसूरत बात लिखी है आपने। सच है कलम कि सार्थकता लेखन और अभिव्यक्ति है। इतनी अच्छी तारीफ़ के लिए आभार नागेश्वर। 😊

      Liked by 1 person

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s