क्या हाल है?

क्यों,  किसी के  ‘क्या हाल है?’  पूछते

 दर्दे-ए-दिल का हर टांका उधड़ता चला जाता है?

कपड़े के थान सा दिल का हर दर्द,

तह दर तह, अनजाने खुलता चला जाता है।

 यह  सोचे बिना,  इसे समेटेगा कौन?

ख़ता किसकी है?

पूछने वाले के अपनेपन की?

 या पीड़ा भरे दिल की?

 

Image- Aneesh

36 thoughts on “क्या हाल है?

    1. आशीष मुझे आपसे एक सुझाव लेना है. शायद आप इसमें मेरी मदद कर सकें.
      WP पर पहले मेरा free plan था. तब मै IB पर पोस्ट करती रहती थी. लेकिन जब से WP पर प्लान ले लिया है. तब से मै IB पर post नहीं कर पा रहीं हूँ. यह WP link बदल जाने से हुआ है.
      क्या करने से यह ठीक हो सकता है? कोई idea हो तो बताइएगा.
      आभार!

      Liked by 1 person

      1. Hi! Since your blog URL (blog address) has changed after purchasing WordPress plan, you have to update your blog URL at Indiblogger… You can do this as below:

        Login to Indiblogger-> Dashboard-> Account Settings -> Blogs

        Under “Blogs” section, please add your new blog URL and delete the previous one. It will take probably one day (can’t remember the exact) to get approved by Indiblogger…. It will work. You can then start sharing your post with new blog URL

        Do as mentioned above and let me know if it work…

        Indiblogger me blog URL update kar lijiye, ho jayega… :Agar koi dikkat ho to batana -)

        Liked by 2 people

      2. I tried but failed.
        Login to Indiblogger-> Dashboard-> Account Settings -> Blogs, there’s any option for changing the URL.
        There is an option +add another blog.
        I tried to add the new URL.
        But it says- we may have a problem or two. Sorry, that WordPress blog May already exist in IndiBlogger. Please contact IndiSupport.

        Like

  1. लैप टॉप ख़राब होने की वजह से पूरे Lockdown में ही पोस्ट नहीं कर पाया , न ही अन्य लोगों के पोस्ट देख पाया |  फोन से पूरी तरह करना आया नहीं |  एक बार temp Laptop मिला है | 
    आशा है आप स्वस्थ  होंगे और पूरा ध्यान रख रहे होंगे | 

    बहुत सही बात है कि बहुदा “क्या हाल है” पूछने पर भरता हुवा घाव कुरेदा जाता है और हरा हो जाता है | एक नजरिया और भी है ,  कोई दुःखी है और आप इस भय से की उसका दर्द पुनः ना उभर पड़े आप उससे नहीं पूछते की “क्या हाल है?”  आपका ना पूछना अधिकतर जले पर नमक का काम करेगा कि  अच्छे हमदर्द हैं , मेरी फ़िक्र ही नहीं , खैरियत ही नहीं पूछी!

    Liked by 2 people

    1. कोई बात नहीं. Welcome back! आशा है आप सपरिवार स्वस्थ और सआनंद होंगे.
      सही कहा आपने, हाल पूछना भी ज़रूरी है.

      Like

  2. लैप टॉप ख़राब होने की वजह से पूरे Lockdown में ही पोस्ट नहीं कर पाया , न ही अन्य लोगों के पोस्ट देख पाया |  फोन से पूरी तरह करना आया नहीं |  एक बार temp Laptop मिला है | 
    आशा है  स्वस्थ  होंगे और पूरा ध्यान रख रहे होंगे | बहुत सही बात है कि बहुदा “क्या हाल है” पूछने पर भरता हुवा घाव कुरेदा जाता है और हरा हो जाता है | एक नजरिया और भी है ,  कोई दुःखी है और आप इस भय से की उसका दर्द पुनः ना उभर पड़े आप उससे नहीं पूछते की “क्या हाल है?”  आपका ना पूछना अधिकतर जले पर नमक का काम करेगा कि  अच्छे हमदर्द हैं , मेरी फ़िक्र ही नहीं , खैरियत ही नहीं पूछी!

    Liked by 2 people

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s