परिवर्तन स्वीकार करें। Don’t resist the changes

दो विचार, दो अलग युग में जिसके अर्थ समान हैं। Two thoughts of two different eras with similar meaning.

Rate this:

परिवर्तन संसार का नियम है।।

Change is the law of the universe.

गीता, THE GEETA

 

 

 

परिवर्तन स्वीकार करें

जीवन की धारा के साथ चलें, विपरीत नहीं।

 आपको लगता है , जीवन में गलत हो रहा है ?

लेकिन आप कैसे जानते हैं, आपके लिये सही क्या है?

Instead of resisting to changes, surrender.

Let life be with you, not against you.

If you think ‘My life will be upside down’ don’t worry.

How do you know down is not better than upside?

 

– Shams Tabriz ( Rumi’s spiritual Instructor)

25 thoughts on “परिवर्तन स्वीकार करें। Don’t resist the changes

  1. मैं आपसे इसके आगे की बात कहता हूं। जीवन समय के साथ चलता है। समय से भला कोई जीता है। आपने शायद वक्त फिल्म देखी हो। समय से आगे रहना होता है। आपके हाथ मे कर्म है। समय को क्या दोष देना? कर्म के हाथ में समय को बदलने की शक्ति है। श्रीराम को भी बनवास झेलना पडा पर इससे रावण का नाश हुआ। समय के गर्भ में क्या है, कोई नहीं जानता।

    Liked by 2 people

    1. बहुत सच्ची और अच्छी बात कही है आपने. समय अजेय है और सबसे बड़ा गुरु है.

      इस पोस्ट में मैंने गीता और सूफ़ी दरवेश शम्स तब्रिज ( रूमी के आध्यात्मिक गुरु) के उद्धरण दिए हैं. दोनों के विचारों में अद्भुत समानता है. मैं कहना चाह रहीं हूँ कि धर्म या मान्यताएँ भले हीं अलग हों, पर विचार और शिक्षा एक हीं हैं.

      Liked by 1 person

    1. Actually i noticed that similar thought and views are explained by Rumi or in Geeta.

      Congrats and thanks Krishna for this honour. But i request you to nominate any upcoming blogger instead of me.

      Liked by 1 person

  2. “How do you know down is not better than upside?”

    Watching a turning wheel, I can see that what is down will turn upside, and what is upside will turn downside. It is better to go along than blocking the wheel …

    Liked by 2 people

  3. Hii ma’am. I’m inspired by you and your blog. I want to discuss something about our blogs because you and I are hindi blogger ie. we are on same boat.my blog http://www.sabsafal.com
    Remember that no matter how far you go if you are on wrong path you will never reach to the right place.

    Liked by 1 person

  4. आपको लगता है , जीवन में गलत हो रहा है ?
    लेकिन आप कैसे जानते हैं,
    आपके लिये सही क्या है?
    कर्म से बड़ा कुछ नही
    समय से बलवान कुछ भी नही,
    जो हुआ वह भी अच्छा
    जो होगा वह भी अच्छा।
    गम है आंसू बहा लेते हैं,
    मगर उम्मीद मुस्कुराने का बनाये रखना
    आस का दीपक जलाए रखना।

    Liked by 1 person

    1. बिलकुल सही. गीता के सार में हीं छुपा है सारे जीवन का सार!
      फिर भी ग़म है, तब आँसू आ हीं जातें है. शुक्रिया आपका!!

      Like

  5. बहुत अच्छी बात कही है रेखा जी आपने । एक शेर याद आ रहा है :

    जो दूर से तूफ़ान का करते हैं नज़ारा, उनके लिए तूफ़ान यहाँ भी है वहाँ भी
    धारा में जो मिल जाओगे, बन जाओगे धारा, यह वक़्त का ऐलान यहाँ भी है वहाँ भी

    Liked by 1 person

    1. हमेशा की तरह आपने ख़ूबसूरत और अर्थपूर्ण शेर लिखा है. बहुत आभार!! आपके पास शेरों और गीतों का अद्भुत संकलन है जितेंद्र जी.

      Liked by 1 person

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s