16 thoughts on “फेनिल लहरे

    1. लहरों जब किनारों की ओर पहुँचती है, तब पानी के बुलबुलों से झाग या फ़ेन ( जैसे साबुन से बनता है ) बन जाता है .

      Like

      1. Welcome Nimish, अब समुद्र में भी कचरा ज़्यादा है. It’s ok, हर बात के लिए गूगल को disturb क्या करना ? 😂

        Like

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s