मुरली प्यारी है या मोर मुकुट?

विष्णु के अष्टम अवतार, 

देवकी के आठवें पुत्र,

अष्ट पत्नियाँरुक्मणि, जाम्बवन्ती, सत्यभामा,

कालिन्दी, मित्रबिन्दा, सत्या, भद्रा और लक्ष्मण को

राधा को, मीरा को, गोपियों को, 

 कान्हा क्यों सभी को अच्छे लगते हैं ?

  मुरली प्यारी है या मोर मुकुट? या स्वंय केशव?

कोई नहीं जान पाया…..

बस इतना हीं काफी है – वे अच्छे लगतें हैं।

 

22 thoughts on “मुरली प्यारी है या मोर मुकुट?

      1. 🙂 karna kya hai? kuch bhi nahi. wish karna chahiye ki logo ki aisi dharnaye badle.
        yah to hamaare society ki den hai.
        hamaare jyadaa devta savle the fir bhi rang bhed serious issue hai.

        Liked by 1 person

      2. यह हमलोगों का बचपन से सीखा हुआ negative mindset है. सुंदरता मतलब त्वचा का रंग. इससे निकलने में समय लगेगा.

        Like

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s