ख़ुद से ना हारे तो जीत निश्चित है!

दुनिया ना जीतो

दूसरों को ना जीतो

अपने आप को जीतो

और अगर ……..

ख़ुद से ना हारे तो जीत निश्चित है .

9 thoughts on “ख़ुद से ना हारे तो जीत निश्चित है!

    1. आभार नीरज .
      ज़िंदगी के कई पलों में हम ख़ुद से हारने लगते हैं. यह मैंने भी महसूस किया है. तब यही बातें हौसला देतीं हैं.

      Liked by 1 person

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s