रेत के कण ( कविता ) #LessonOfLife


Indian Bloggers

क्या रेत के कणों को देख कर क्या

यह समझ आता है कि कभी ये

किसी पर्वत की चोटी पर तने अकडे

महा भीमकाय चट्टान होंगे
या कभी

किसी विशाल चट्टान को देख कर मन

में यह ख्याल आता है कि समय की

मार इसे चूर-चूर कर रेत बना देगी?

नहीं न?

इतना अहंकार भी किस काम का?

तने रहो, खड़े रहो पर विनम्रता से।

क्योंकि यही जीवन चक्र है।

जो कभी शीर्ष पर ले जाता है और

अगले पल धूल-धूसरित कर देता है।

शब्दार्थ- Word meaning

रेत -Sand

कण-Particles

पर्वत की चोटी – the top of the mountain

भीमकाय चट्टान – giant rock

चूर-चूर – Shattered

अहंकार – narcissism , Ego, high-and-mighty

विनम्रता- politeness, humbleness

जीवन चक्र- Life Cycle

शीर्ष – Top

What is the best lesson that life has taught you so far? #LessonOfLife

Source: रेत के कण ( कविता )

89 thoughts on “रेत के कण ( कविता ) #LessonOfLife

    1. धन्यवाद अभय , अहंकार जीवन की सभी सच्चाईयाँ पर भारी पङता है। पर यह सच्चाई कम हीं लोग समझतें हैं।

      Liked by 1 person

      1. Thank you Rekha ji, though very naive at blogging, yet I find it very exciting place,just because the gesture shown by fellow bloggers who encourage, appreciate writing, just as you did by nominating me for bloggers recognition award.
        Thanks again. 😊

        Liked by 1 person

    1. आपको कविता पसंद आई। जानकर बङी बहुत खुशी हुई। यह comment, spam में चला गया था। अभी नजर पङी।

      Liked by 1 person

  1. आपकी इस प्रशंसनीय कविता ने मुझे अयोध्या सिंह उपाध्याय ‘हरिऔध’ जी की प्रसिद्ध लघु कविता – ‘एक तिनका’ की स्मृति दिला दी रेखा जी । आपकी इस कविता में अंतर्निहित संदेश अनमोल है । बहुत-बहुत अभिनंदन इसके लिए ।

    मैंने आपके नाम की संस्तुति ‘Bloggers Recognition Award’ के लिए की है । संबंधित लिंक इस प्रकार है :
    https://jmathur.wordpress.com/2017/02/02/bloggers-recognition-award/

    सादर,

    जितेन्द्र माथुर

    Liked by 1 person

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s