अखरोट मखाना गुङ के स्वास्थवर्धक लङ्ङू – दिवाली के अवसर पर Healthy Walnut and Fox Nut laddoo


Indian Bloggers

त्योहारों में अक्सर गरिष्ठ मिठाइयोँ का प्रचलन है। इस दिवाली पर स्वादिष्ट, स्वस्थवर्धक लङ्ङूअों का मजा लिजीए। इसमे चीनी या घी बिलकुल नहीं है। इसे बनाना भी सरल है।

लङ्ङू
अखरोट- २०० ग्राम
मखाना – १०० ग्राम

बादाम – ५०ग्राम

चार मगज – १०० ग्राम ( तरबूज, सीताफल(कद्दू), खरबूजा और खीरे के बीज)

गुङ – २५० ग्राम

नारियल – १ कद्दुकस करें या मिक्सी में पीस लें

चाँदी का वर्क – ( अगर पसंद हो)

अखरोट , मखाना,बादाम,कद्दू के बीज अौर मगज अलग-अलग हलका भुनें। सूखा हीं मिक्सी में दरदरा पीस लें। गुङ को कद्दुकस करें। सभी सामग्री अच्छे से मिला कर थोङा मसलें। फिर इसे लङ्ङू बनाएँ।
वर्क लगायें। स्वादिष्ट, स्वस्थवर्धक लङ्ङू तैयार हैं।

अखरोट के फायदे – यह मस्तिष्क, नर्वस सिस्टम व दिमाग को तरावट देता है। इससे तनाव का स्‍तर घटता है। इसके सेवन से ब्‍लड़ प्रेशर नियंत्रित होता है अौर अच्‍छी नींद आती है। इसे बुद्धिवर्धक, लम्‍बे जीवन देने वाला अौर वजन घटाने वाला माना गया है। मधुमेह मे अखरोट लाभकारी होता है। गर्भवती महिलाओं के लिए भी अखरोट लाभप्रद है। यह बुरे कोलेस्ट्रोल को कम कर अच्छे कोलेस्ट्रोल को बढ़ाता है।
मखाना के फायदे – इसमें कैल्शियम, एटीं-आॉक्सीङेंट व एटीं-एजिंग गुण होते हैं। यह घुटनों, कमर दर्द व मधुमेह के लिये लाभदायक है। यह किङनी तथा दिल को सेहतमंद बनाता है।
बादाम के फायदे – इससे दिल हेल्दी रहता है। खराब कोलेस्ट्रॉल में राहत मिलती है और बढ़िया कोलेस्ट्रॉल बढ़ता है।  इसमें मौजूद विटामिन ई  एंटीऑक्सीडेंट  है। बादाम में मौजूद फ्री रेडिकल उम्र के असर और सूजन को रोकता है।

कद्दू के बीज अौर मगज  के  फायदे – डायबिटीज रोगियों के लिए लाभकारी है। वजन घटाने को बढ़ावा देते हैं। बालों की ग्रोथ, सूजनरोधी, बेहतर नींद लेने में मददगार व एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर हैं। दिल को स्वास्थ्य रखता है। मगज ब्लड प्रेशर नियंत्रित,  आंखों, बालों और नाखूनों को हेल्दी, इम्यून सिस्टम करता है स्ट्रांग बनाता है।यह गर्भवती महिलाओं के लिए फायदेमंद है। यह स्ट्रेस दूर करता है। यह कब्ज और एसिडिटी में भी फायदेमंद है।
 
नारियल के  फायदे  –  यह पोषक तत्‍वों का खजाना है। इसमें कॉपर, सेलेनियम, आयरन, फास्फोरस, पोटेशियम, मैग्नीशियम और जस्ता में जैसे खनिज मौजूद होते हैं। इसके अलावा, इसमें मौजूद वसा हेल्‍दी फैट में काउंट होती है।
 
 
 
नोट-

१ यह लङ्ङू मखाना के बिना सिर्फ अखरोट से भी बना सकतें है।
२ गुङ की मात्रा जरुरत अौर स्वाद के अनुसार ज्यादा भी ङाल सकतें हैं।
३ इस लङ्ङू का सेवन कम मात्रा में करें।
४ लङ्ङू की सामग्री को बारीक भी पीस सकतें हैं।

शुभ दिवाली!!!!

Happy diwali!!!!

26 thoughts on “अखरोट मखाना गुङ के स्वास्थवर्धक लङ्ङू – दिवाली के अवसर पर Healthy Walnut and Fox Nut laddoo

      1. dear. no. years ago …. i am talking about twenty years ago i had a student from punjab …. i was to be know something and by myself i thought the hindi was his mother language…. i bought in venice a hindi grammar book…. (i have it in my bookshelf too i like very much the style of the characters) …. but i was wrong the kid told me that he doesn’t hindi but of another language….i understood….

        dear that’s the story of my link to hindi. something like a feelings and an appreciated style. and an experience in language.

        i hope i explain clear my thought…..
        hugs by
        Rinaldo.

        ciao.

        Liked by 1 person

      2. Wow !!! Its nice to know that you like Hindi n you are a teacher. I am also in teaching profession.
        Ton of thanks for your Diwali greetings once again buddy. Keep smiling n enjoy life.
        Rekha

        Liked by 1 person

Leave a Reply

Please log in using one of these methods to post your comment:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s